Home News IND vs AFG: तीन स्पिनर्स या फिर तीन तेज गेंदबाज? अफगानिस्तान के...

IND vs AFG: तीन स्पिनर्स या फिर तीन तेज गेंदबाज? अफगानिस्तान के खिलाफ मैच से पहले फंसा पेंच

60
0
DUBAI, UNITED ARAB EMIRATES - SEPTEMBER 08: Bhuvneshwar Kumar of India celebrates with team mates after dismissing Azmatullah Omarzai of Afghanistan during the DP World Asia Cup match between India and Afghanistan at Dubai Cricket Stadium on September 08, 2022 in Dubai, United Arab Emirates. (Photo by Francois Nel/Getty Images)

CWC 2023, IND vs AFG: दिल्ली पिच के नए अवतार ने रोहित शर्मा को एक दुविधा में डाल दिया है, कि इस नई पिच पर तीन स्पिनर्स को प्लेइंग इलेवन में रखें या तीन तेज गेंदबाजों को.

ICC Cricket World Cup 2023: वर्ल्ड कप में भारत ने अपने पहले ही मैच में ऑस्ट्रेलिया जैसी मजबूत टीम को हराकर, बाकी सभी टीमों को एक चेतावनी दे दी है. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चेन्नई में मिली जीत ने भारतीय स्पिनर्स ने एक अहम भूमिका निभाई थी. रविंद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन और कुलदीप यादव ने मिलकर 6 विकेट चटकाए और ऑस्ट्रेलिया को सिर्फ 199 रनों पर समेट दिया. अब बारी अफगानिस्तान की है, जिसके साथ भारत का मैच दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में होने वाला है. 

दिल्ली के स्टेडियम को पिछले कई सालों से कम स्कोरिंग वाला मैदान माना जाता रहा था, जिसमें गेंदबाजों के लिए मदद होती थी, और बल्लेबाजों को रन बनाने में मुश्किलें होती थी. हालांकि, यहां की बाउंड्रीज़ छोटी हैं, लेकिन पिच पर बल्लेबाजों को गेंद की उछाल और स्विंग को प्रिडिक्ट करना मुश्किल होता था, लेकिन इस वर्ल्ड कप में हुए दिल्ली के पहले मैच में सबकुछ उल्टा देखने को मिला. दिल्ली में दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका के खिलाफ मैच खेला गया था, जिसमें कुल मिलाकर 754 रन बनाए गए. इस दौरान बल्लेबाजों ने 74 चौके और 31 छक्के लगाए. दिल्ली की पिच का ऐसा अवतार पहले देखने को नहीं मिला था, लेकिन अफगानिस्तान के खिलाफ भारत के मैच से पहले दिल्ली के पिच क्यूरेटर ने कहा कि, अब पुराने दिनों को भूल जाइए, “दिल्ली में अभी तो पार्टी शुरू हुई है.”

अफगानिस्तान के खिलाफ कैसा होगा भारत का टीम कॉम्बिनेशन

ऐसे में अब भारत के सामने एक बहुत बड़ा सवाल खड़ा हो गया है कि टीम इंडिया को किस कॉम्बिनेशन के साथ दिल्ली के मैदान पर उतरना चाहिए. क्या भारत को चेन्नई की तरह तीन स्पिनर्स के साथ जाना चाहिए, या अश्विन की जगह मोहम्मद शमी को मौका देकर तीन मुख्य तेज गेंदबाज के साथ जाना चाहिए, या अश्विन की जगह ऑल-राउंडर शार्दुल ठाकुर को मौका देकर तेज गेंदबाजी और बल्लेबाजी के लिए एक अतिरिक्त विकल्प को रखते हुए मैदान पर उतरना चाहिए. 

दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका वाले मैच में श्रीलंका के सभी तेज और स्पिन दोनों तरह के गेंदबाजों की खूब पिटाई हुई थी, लेकिन दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज स्पिनर केशव महाराज ने 10 ओवर में 62 रन देकर 2 विकेट लिए, और बताया कि अनुभव किसे कहते हैं. वहीं, तेज गेंदबाज लुंगी एनगीडी और कगिसो रबाडा ने भी लगभग 6 की इकोनॉमी रेट से रन दिए और क्रमश: 1 और 2 विकेट भी चटकाए. इसका मतलब साफ है कि बेशक दिल्ली की पिच पर रन खूब बन रहे हो, लेकिन विकेट चटकाने के मौके स्पिनर और तेज गेंदबाज दोनों के लिए उपलब्ध हैं. ऐसे में देखना होगा कि रोहित शर्मा अफगानिस्तान के खिलाफ दिल्ली में होने वाले मैच में चेन्नई वाली प्लेइंग इलेवन के साथ उतरते हैं, या मोहम्मद शमी को मौका देते हैं, या शार्दुल ठाकुर को टीम में लेकर आते हैं.

यह भी पढ़ें:

Previous articleहमास-इजरायल ‘युद्ध’ में अब तक गई 1300 से ज्यादा लोगों की जान, बेंजामिन नेतन्याहू बोले, ‘हमारा बदला अभी बस शुरू ही हुआ है’ | बड़ी बातें
Next articleShubman Gill Health: टीम इंडिया के बल्लेबाजी कोच ने सुनाया शुभमन गिल का हाल, क्या पाकिस्तान के खिलाफ कर पाएंगे वापसी?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here