Home News Shahid Latif Dead: पठानकोट हमले का मास्टरमाइंड आतंकी शाहिद लतीफ को पाकिस्तान...

Shahid Latif Dead: पठानकोट हमले का मास्टरमाइंड आतंकी शाहिद लतीफ को पाकिस्तान में गोलियों से भूना, हुई मौत

0
59

Terrorist Shahid Latif Dead: पठानकोट हमले का मास्टरमाइंड और भारत के मोस्ट वांटेड आतंकी शाहिद लतीफ की पाकिस्तान में हत्या कर दी गई है

Terrorist Shahid Latif Shot Dead: पठानकोट हमले का मास्टरमाइंड और भारत के मोस्ट वांटेड आतंकी शाहिद लतीफ की पाकिस्तान में हत्या कर दी गई है. स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अज्ञात हमलावरों ने सियालकोट में उसकी गोली मारकर हत्या कर दी.

गौरतलब है कि पंजाब के पठानकोट स्थित एयरबेस पर 2016 में आतंकी हमला हुआ था. यह हमला आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने किया था. इस हमले में सेना के सात जवान शहीद हुए थे. एनआईए की जांच से पता चला था कि इस हमले का मास्टरमाइंड शाहिद लतीफ ही था. 

पठानकोट आतंकी हमले की रची थी साजिश 

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, एनआईए की जांच में इस बात का भी खुलासा हुआ कि पठानकोट आतंकी हमले की साजिश पाकिस्तान में रची गई और उसे अंजाम दिया गया था. आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद ने हमले को अंजाम देने के लिए चार फिदायीनों को प्रशिक्षित किया था और उन्हें भेजा था. एनआईए की जांच में पाया गया था कि हमले को अंजाम देने के लिए भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ करने वाले आतंकवादियों के मास्टरमाइंड और आका सभी पाकिस्तान में स्थित थे. 

47 वर्षीय शाहिद लतीफ पाकिस्तान के गुजरांवाला के अमीनाबाद कस्बे के मोर गांव का रहने वाला था. शाहिद लतीफ को जैश के लॉन्चिंग कमांडर के तौर पर जाना जाता है. उसने चार जैश-ए-मोहम्मद आतंकवादियों को पठानकोट भेजा था.

11 सालों तक भारत की जेल में बंद रहा शाहिद

बता दें कि शाहिद लतीफ को 1993 में आतंकी आरोप में भारत में गिरफ्तार किया गया था. उस पर  मुकदमा चलाया गया और जेल भेज दिया गया. शाहिद लतीफ भारतीय जेल में करीब 11 सालों तक बंद रहा था. भारत में सजा पूरी होने के बाद 2010 में उसे पाकिस्तान भेज दिया गया था. एनआईए की जांच में कहा गया है कि भारत से निकाले जाने के बाद शाहिद लतीफ वापस पाकिस्तान की जिहादी फैक्ट्री में चला गया था और उसने पठानकोट आतंकी हमले में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. 

यह भी पढ़ें:

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here